दिल्ली हिंसा के बीच मोदी सरकार के लिए आई एक और बुरी खबर!


Rajnish Verma 27/02/2020 12:40:13
1703 Views

New Delhi. नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पूरे देश में प्रदर्शन और हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। दिल्ली में दो गुटों में संघर्ष के दौरान करीब 28 लोगों की मौत हो गई है, जबकि सैकड़ों लोग घायल बताए जा रहे हैं। इस बीच मोदी सरकार के लिए एक बुरी खबर सामने आ गई है। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के आंकड़े के मुताबिक, बीते साल के आखिरी महीने यानी दिसंबर में करीब 12.67 लाख नौकरियां सृजित हुईं। इससे एक महीना पहले यानी नवबंर 2019 में 14.59 लाख नौकरियां सृजित हुई थीं। इस लिहाज से एक महीने में करीब 1.92 लाख नौकरियों के सृजन में कमी आई है।

27-02-2020124638onemorebadn1

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के आंकड़ों में बताया गया है कि दिसंबर 2019 में फॉर्मल सेक्‍टर में नौकरी सृजन 10.08 लाख पर था, जबकि एक साल पहले इसी अवधि में 5.59 लाख नौकरियां सृजित की गई थीं। वैसे तो एक साल में 5 लाख से अधिक की बढ़त हुई है, लेकिन नवंबर 2019 से तुलना करें तो रोजगार सृजन में कमी आई है। बता दें कि नवंबर में 10.09 लाख नई नौकरियां सृजित हुई थीं।

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के मुताबिक, वित्तीय वर्ष 2018-19 के दौरान ईएसआईसी के साथ कुल 1.49 करोड़ नए कर्मचारियों/श्रमिकों के नामांकन कराए गए। सितंबर 2017 से दिसंबर 2019 के दौरान लगभग 3.50 करोड़ नए लोग ईएसआईसी योजना में शामिल हुए। गौरतलब है कि एनएसओ की रिपोर्ट ईएसआईसी, ईपीएफओ और पेंशन फंड नियामक तथा विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) द्वारा संचालित विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के तहत बनाए गए नए सदस्यों के पेरोल डेटा पर आधारित है।

27-02-2020124804onemorebadn2

अप्रैल 2018 से इन तीनों निकायों के नए सदस्यों के आंकड़ों के आधार पर नौकरियों के आंकड़े जारी किए जा रहे हैं। ताजा आंकड़ों के मुताबिक, सितंबर 2017 से दिसंबर 2019 के दौरान कर्मचारी भविष्य निधि फंड योजना में करीब 3.12 करोड़ नए सदस्य शामिल हुए।

यह भी पढ़ें- 

दिल्ली हाईकोर्ट के जज एस.मुरलीधर के तबादले पर राहुल -प्रियंका ने उठाए सवाल

दिल्ली हिंसा की सुनवाई कर रहे हाईकोर्ट के जज का तबादला, पुलिस को लगायी थी फटकार

Web Title: one more bad news for the Modi government ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया