प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा ने नकल विहीन बोर्ड परीक्षा की परखी जमीनी हकीकत


D. K. SHUKLA 29/02/2020 15:32:03
44 Views

. सचिव के सवालों पर बगले झांकने लगे डीआईओएस
. परीक्षा में लगे कई जिम्मेदारों के पास आई कार्ड न मिलने पर जताई नाराजगी

Unnao. प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा ने क्षेत्र के कई परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न कराने की बड़ी जिम्मेदारी का निर्वाह करने वाले तमाम जिम्मेदार बिना परिचयपत्र के ही नजर आए, जिस पर उन्होंने नाराजगी जाहिर की। वहीं कई ऐसे बिन्दु भी उजागर हुए, जिनके जवाब देने में जिला विद्यालय निरीक्षक बगले झांकने लगे।

29-02-2020154100PrincipalSecr1

प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा आराधना शुक्ला सुबह 9 बजकर 20 मिनट पर राम सिंह लालता सिंह विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने नियंत्रण कक्ष में लगे सीसीटीवी के माध्यम से सभी कक्षो को देखा। यहां के कक्ष संख्या 8 में दो बच्चे आपस मे बातें करते दिखाई देने पर उनकी जगह बदलवाने के निर्देश दिए। कक्षा कक्षों में बोर्ड की गाइड लाइन के हिसाब से बच्चे न बैठाने पर उन्होंने डीआइओएस से नाराजगी जाहिर की। बता दें कि बोर्ड से निर्देश 25 बच्चों को बैठाने के जबकि, यहां एक कक्षा में 18 बच्चे बैठे मिले। 

29-02-2020154141PrincipalSecr2

प्रमुख सचिव के पूछने पर डीआईओएस रोडमैप की भी जानकारी नहीं दे सकें। 30 किलोमीटर की दूरी पर कोई दूसरा केंद्र न मिलने पर उन्होंने नाराजगी जाहिर की। अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक सियाराम बगैर आईडी के घूमते मिले जिस पर उन्होंने फटकार लगाई। 

इसके बाद उन्होंने एएलवाई मैनपुरिया मोहान इंटर कालेज का निरीक्षण किया। उन्होंने आवासीय विद्यालय होने के बावजूद केंद्र बनाए जाने पर डीआईओएस से पूछा तो गोलमाल जवाब देते रहे। अतिरिक्त मजिस्ट्रेट बनाये गए वन क्षेत्राधिकारी देवदत्त पाल बगैर आईडी के मिले, जिस पर फटकार लगाते हुए पूछा कि तुम्हारा काम क्या है तो वह हड़बड़ा गए।

माध्यमिक शिक्षा प्रमुख सचिव आराधना शुक्ला ने बताया कि दो विद्यालयों का निरीक्षण किया है जिसमें सिटिंग प्लान बेटर हो सकता है। अतिरिक्त मजिस्ट्रेट को क्या करना है उनको ट्रेनिंग दिए जाने की आवश्यक्ता है। इस मौके पर एसडीएम प्रदीप वर्मा, सीओ रमेश चन्द्र प्रलयंकर, कोतवाली प्रभारी अरुण प्रताप सिंह, चौकी प्रभारी प्रमोद यादव, हरिलाल सिंह, आनन्द सिंह आदि लोग मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें...स्ट्रीट लाइट अनियमितता: जांच की आंच पहुंची हिलौली ब्लाक

Web Title: Principal Secretary Secondary Education tests the groundless examination of the board without cheating ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया