कला और संस्कृति मानव में संस्कारों का विकास करती है : सूर्या मोहन कुलश्रेष्ठ


Gaurav Shukla 29/02/2020 15:57:06
39 Views

Lucknow. एकेटीयू के सांस्कृतिक वार्षिकोत्सव डॉ अब्दुल कलाम आर्ट्स एंड कल्चरल फेस्ट (राज्य स्तरीय), प्रवाह-2020(Pravah 2020) का शुभारंभ शुक्रवार को अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान, लखनऊ के पं रामप्रसाद बिस्मिल प्रेक्षागृह में हुआ| इस अवसर पर विवि के कुलपति प्रो विनय कुमार पाठक(Prof. Vinay Kumar Pathak) की अध्यक्षता में  कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सूर्या मोहन कुलश्रेष्ठ मंचासीन रहे। 

29-02-2020160041AKTUANNUALFE1

कार्यक्रम का शुभारम्भ विवि के कुलपति प्रो पाठक के साथ मुख्य अतिथि सूर्या मोहन कुलश्रेष्ठ ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया|  संस्थानों के निदेशक प्रो एचके पालीवाल ने स्वागत उद्बोधन दिया| साथ ही उन्होंने प्रदेश भर से आये हुए समस्त प्रतिभागियों का विश्वविद्यालय परिवार के ओर से स्वागत करते हुए सभी को जीत की अग्रिम शुभकामनाएं दीं। इस अवसर डीन स्टूडेंट वेलफेयर प्रो ओपी सिंह ने बताया कि स्टेट लेवल फेस्ट में 8 जोने से जीत कर आये प्रतिभागी शामिल हो रह हैं|  उन्होंने बताया कि इन आठ जोन में मथुरा, वाराणसी, बरेली, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, गोरखपुर, कानपुर एवं मेरठ शामिल हैं| इन आठ जोन में हुए जोनल फेस्ट में 105 संस्थानों के 3651 विद्यार्थी शामिल हुए, जिसमें 1982 छात्र एवं 1669 छात्राएं शामिल हैं| इनमें से लगभग 599 छात्र-छात्राएं राज्य स्तरीय फेस्ट में शामिल होने के लिए पधारे हैं| 

29-02-2020160058AKTUANNUALFE2

फेस्ट की समन्वयक प्रो नीलम श्रीवास्तव ने बताया कि प्रवाह के पहले दिन मेहंदी डिजाइनिंग, सांस्कृतिक संगीत, एकल नृत्य, सामूहिक नृत्य, टी-शर्ट पेंटिंग, कोलाज मेकिंग, नुक्कड़ नाटक आदि कार्यक्रमों का आयोजन किया गया| उन्होंने बताया कि निर्णायक मंडल में कला और संस्कृति के क्षेत्र में ख्याति प्राप्त बुद्धजीवियों को आमंत्रित किया गया है| कार्यक्रम में आयोजित सांस्कृतिक संगीत का निर्णय, कमला श्रीवास्तव, किशोर चतुर्वेदी, डॉ स्वाति रिजवी के नेतृत्व में हुआ। कला प्रतियोगिताओं का निर्णय डॉ हुमाख्वाज़ा, डॉ गरिमा सिंह, अश्वनी  एवं रवि सोनी ने किया तो वही संस्थान में  आयोजित नुक्कड़ नाटकों का निर्णय नवल शुक्ला व  सौवीक चक्रवर्ती ने किया।

29-02-2020160116AKTUANNUALFE3

 विवि के कुलपति प्रो विनय कुमार पाठक ने कहा कि विवि के छात्र-छात्राओं को कला और संस्कृति से जोड़ने के लिए यह फेस्ट जोनल और राज्य स्तर पर आयोजित करने की सफल पहल की गयी है| उन्होंने कहा कि विवि में जल्द ही सूर्या मोहन कुलश्रेष्ठ के सहयोग से थियेटर और अभिनय पर वर्कशॉप का आयोजन किया जायेगा| साथ ही उन्होंने बताया कि एक शाम थियेटर के नाम से एक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा| 

29-02-2020160151AKTUANNUALFE4

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सूर्या मोहन कुलश्रेष्ठ ने कहा कि कला और संस्कृति मानव में संस्कारों का विकास करती है| उन्होंने कहा कि कला कौशल हमारे मस्तिष्क को क्रिएटिव बनाता है| उन्होंने कहा कि महशूर वैज्ञानिक आईन्सटीन ने कहा था कि विज्ञान और कला दोनों एक ही वृक्ष की शाखाएं हैं| ऐसे में अभियांत्रिकी के छात्र-छात्राओं द्वारा कला एवं संस्कृति के क्षेत्र प्रतिभाग सकारात्मक पहल है| प्रेक्षागृह में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया, वही प्रतिभागियों ने अपने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को सामाजिक सन्देश देने का प्रयास किया। शुक्रवार को पूरा आईईटी परिसर प्रतिभागियों के उत्साह के उतार-चढ़ाव से भरा रहा। प्रवाह-20 का मुख्य केंद्र बिंदु उत्तर प्रदेश की सांस्कृतिक विविधता और विरासत के इर्द-गिर्द घूमता रहा। विवि के इस द्विदिवसीय महोत्सव में शनिवार, 29 फरवरी, 2020 को मिमिक्री, फेस पेंटिंग, पोस्टर पेंटिंग, रंगोली,  बैंडवार आदि का आयोजन किया जाएगा| समस्त प्रतियोगिताओं के विजेताओं के सम्मान समारोह के साथ ही प्रवाह-2020 का समापन किया जाएगा। 

Web Title: AKTU ANNUAL FEST PRAVAH 2020 ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया