पहले ध्यान दें कोरोना, बाद में कभी एक दूजे के होना!


D. K. SHUKLA 23/03/2020 16:21:10
30 Views

. कोरोना की दहशत से तयशुदा विवाह कार्यक्रमों पर भी लगी ब्रेक
. लोग खुद से स्थगित कर रहे पार्टी और फंक्शन
. नाफरमानी करने वालों पर दर्ज हो रही एफआईआर

Unnao. कोरोना वायरस के संक्रमण की दहशत चहुं ओर व्याप्त है। सामान्य जन जीवन लगभग ठप सा हो गया। कानपुर और लखनऊ महानगरों के बीच बसे जनपद में भी कोरोना वायरस के संक्रमण की दहशत का व्यापक असर देखने को मिल रहा है। आलम यह हो गया है कि यह दहशत उन लोगों के सपनों पर भी भारी पड़ रही जो इस बीच एक दूसरे के होने वाले थे। वायरस के प्रकोप के चलते शादियों के कार्यक्रमों पर भी ग्रहण लग गया है। आलम यह है कि कोई स्वेच्छा से तो कोई पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के निगरानी के चलते ताउम्र के लिए एक दूसरे का नहीं हो पा रहा है। 

23-03-2020162647Notefirstco1

बीते दो दिनों में ऐसे ही दो मामले सामने आए जिसमें एक पिता ने अपनी तरफ से बेटी की शादी ऐन वक्त पर टाल दी, जबकि दूसरे मामले में गेस्ट हाउस में चल रहे शादी के कार्यक्रम को पु​लिस ने बंद करा दिया। इतना ही नहीं, इस मामले में सरकार के हुक्म की तामीली न करने पर गेस्ट हाउस के संचालक पर मुकदमा भी दर्ज हो गया है। 

केस एक-

बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के नेवल गांव में मतीन की बेटी चांदनी का निकाह रविवार को होना था। बारात आसीवन थाना क्षेत्र के मियागंज से आनी थी। दोनों ही परिवार तकरीबन एक माह से विवाह की तैयारियों में जुटे थे। टेंट, लाइट, कैटरर्स आदि की बुकिंग भी हो चुकी थी। इस बीच न जाने कहां से इन दोनों परिवारों के कोरोना वायरस की दहशत की नजर लग गयी। दो दिन पहले राष्ट्र को संबोधित करने के लिए टीवी आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील देश वासियों से कर दी।

इसके बाद दोनों परिवार बेहद असमंजस में पड़ गए। मरता क्या न करता वाली दशा से गुजर रहे मतीन ने आखिरकार रविवार को सुबह अपने होने वाले समधी को फोन घुमाया और सीधे बोल दिया कि मियां ‘‘जान है- तो जहान है’’ बेटी के हाथ तो महीने दो महीने बाद भी पीले हो जाएंगे, अगर बारात में शामिल होने वाले किसी भी बंदे को संक्रमण हो गया तो न तो नीचे वालों को मुंह दिखाने काबिल रहेंगे न ही ऊपर वाले को। हालांकि इस दौरान तैयारियों में पेशगी के रूप में दिया गया उसका तकरीबन एक लाख रुपया बट्टे में चला गया, लेकिन मतीन के इस कदम ने उसे कस्बे में खूब वाहवाही दिलाई।

23-03-2020162723Notefirstco2

केस दो -

कोरोना वायरस की दहशत के बीच पहले से तय कार्यक्रमों को निपटाने में लोगों की फैसला लेने की शक्ति लगभग छीड़ हो चुकी है, जिसका खामियाजा भी उन्हें भुगतना पड़ रहा है। ऐसा ही एक अन्य मामला रविवार की शाम शहर के सिटी पैलेस गेस्ट हाउस में उस समय सामने आया जब पूरे देश में जनता कर्फ्यू के चलते सन्नाटा पसरा था। यहां शहर के दरोगाबाग निवासी जमाल अख्तर की बेटी के निकाह की पार्टी चल रही थी। इसकी जानकारी प्रशासन को लगते ही पुलिस और अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए। वहां जमा लोगों को फटकार भी सुनने को मिली।

इस मामले में कोतवाली पुलिस ने उप निरीक्षक इरफान अहमद की तहरीर पर गेस्ट हाउस के संचालक उपेंद्र निगम पुत्र प्यारेलाल निवासी उरियन टोला, कैसरगंज बाजार थाना कोतवाली सदर के खिलाफ धारा 269 व 188 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है। मामले की जांच उप निरीक्षक शैलेंद्र प्रताप को सौंपी गयी है। बता दें कि गेस्ट हाउस संचालक को जनता कर्फ्यू के बाबत विधिवत सूचना दे दी गयी थी बावजूद इसके शासन के निर्देशों की नाफरमानी करना उन्हें भारी पड़ गया। 

यह भी पढ़ें...इस तरह जनता कर्फ्यू को सफल बनाने के लिए लोगों को किया गया जागरूक

Web Title: Note first corona to be a duo later! ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया