मण्डलायुक्त मुकेश कुमार मेश्राम की अध्यक्षता व जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश की उपस्थिति में कैप्टन मनोज कुमार पाण्डेय यूपी सैनिक स्कूल सरोजनीनगर में एक बैठक हुयी
सैनिक स्कूल की हीरक जंयती की तैयारी को लेकर मंडलायुक्त और जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण

Lucknow. मण्डलायुक्त मुकेश कुमार मेश्राम की अध्यक्षता व जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश की उपस्थिति में कैप्टन मनोज कुमार पाण्डेय यूपी सैनिक स्कूल सरोजनीनगर में एक बैठक हुयी, जिसमें विशेष सचिव आयुष राज कमल यादव, लखनऊ विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष शिवाकान्त द्विवेदी, नगर आयुक्त डॉ. इन्द्रमणि त्रिपाठी, डीएफओ रवि कुमार सिंह, प्रधानाचार्य/रजिस्ट्रार ले. कर्नल उदय प्रताप सिंह, उपजिलाधिकारी सरोजनीनगर प्रफुल्ल कुमार त्रिपाठी सहित सभी सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

- बैठक में स्कूल की मूलभूत सुविधाओं को विकसित करने व सौन्दर्यीकरण कराये जाने के सम्बन्ध में प्रस्ताव तैयार कर शासन को प्रेषित करने के निर्देश दिये गये।

- स्कूल के कैम्पस में एलडीए, नगर निगम व वन विभाग के सहयोग से बृहद वृक्षारोपण कराये जाने के निर्देश दिये गये।

- स्कूल के कैम्पस में औषधीय वृक्षों का वृक्षारोपण भी कराये जाने के निर्देश दिये गये।

-  मुख्यमंत्री के निर्देश  पर स्कूल के कैम्पस में लगायी जायेगी संस्थापक डाॅ. सम्पूर्णानन्द की प्रतिमा। इसके लिए स्थल चयन कर प्रस्ताव शासन को भेजा जायेगा। संस्कृति विभाग यह कार्य कराएगा।

- साल भर देशभक्ति व सैनिकों के शौर्य गाथाओं, विजय दिवसों की महत्वपूर्ण तिथियां में कार्यक्रम आयोजित किए जाएँगे ।उनका कलेन्डर तैयार करने के निर्देश दिये गये।

मण्डलायुक्त ने बताया कि 1960 में स्थापित यह देश का पहला सैनिक स्कूल है तथा बहुत ही एतिहासिक है।   इस स्कूल से बहुत से सैनिक, शहीद, बलिदानी तैयार हुये है। इस बार 60 वर्ष पूर्ण होने पर हीरक जयंती का आयोजन किया जाना है। स्कूल की स्थानीय प्रशासन समिति है,  जिसमें मण्डलायुक्त लखनऊ अध्यक्ष व जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारी सदस्य हैं। कमेटी को यह तय करना है कि साल भर हम सैनिकों के शौर्य दिवस की तारीखों में विशेष कार्यक्रमों का आयोजन कर उत्सव मनायें। इसका शुभारम्भ आगामी 15 जुलाई से किया जा रहा है जिसके सम्बन्ध में यह बैठक आहूत की गयी है।

जिलाधिकारी ने बताया कि यह स्कूल राज्य सरकार के अधीन है। इस स्कूल में जो भी छात्र/छात्रायें पढ़ते हैं उनको देश की सेवा के प्रति विशेष ट्रेनिंग दी जाती है। हम स्कूल में और अच्छे से अच्छा क्या कर सकते हैं इस पर बैठक में विचार विमर्श किया गया। स्कूल में पढ़ने वाले प्रत्येक बच्चे से कैम्पस में वृक्षारोपण कराया जायेगा, जिससे बच्चे अपने शैक्षणिक सत्र में लगाए गए वृक्ष की अच्छे से देखभाल कर सकें।