यूपी में बिजली कर्मचारियों की हड़ताल, कई शहरों में रही बत्ती गुल
यूपी में बिजली कर्मचारियों की हड़ताल, कई शहरों में रही बत्ती गुल

Lucknow. यूपी में बिजली कर्मचारियों की हड़ताल का सोमवार को जबरदस्त असर देखने को मिला। हड़ताल के चलते यूपी के प्रयागराज, लखनऊ, बरेली, मेरठ, वाराणसी समेत कई शहरों के इलाकों की बिजली गुल रही। वहीं, प्रदेश में करोड़ों लोगों को बिजली और पानी समस्या से जूझना पड़ा। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बिजली कर्मचारियों की हड़ताल के चलते डिप्टी सीएम से लेकर ऊर्जा मंत्री और विधायक के घरों की भी बिजली गुल हो गई। बिजली गुल होते ही उपकेन्द्र पर फोन घनघनाने लगे, लेकिन बिजली कर्मियों के प्रदर्शन के चलते किसी का भी फोन रिसीव नहीं हुआ। वहीं, शाम होते-होते लोगों को पीने के पानी तक के लाले पड़ गए। इसके बाद कार्य बहिष्कार के बाद पैदा हुए बिजली संकट से योगी सरकार बैकफुट पर आ गयी।  

अब योगी सरकार ने पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के निजीकरण के प्रस्ताव को वापस लेने का फैसला किया। हालांकि पावर कारपोरेशन के चेयरमैन ने समझौता पत्र पर हस्ताक्षर करने से मना कर दिया। उन्होंने सहमति पत्र पर विचार करने का और समय मांगा है। चेयरमैन ने कहा कि जब टंडर की प्रक्रिया और व्यवस्था में सुधार हो जाएगा तब निजीकरण के प्रस्ताव को खत्म करेंगे।

सोमवार को ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कर्मचारियों के बीच जाकर सहमति पत्र पर हस्ताक्षर का आश्वासन दिया था, जिसके बाद विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा ने आंदोलन वापस लेने का मन बना लिया था। लेकिन सरकार और बिजली कर्मियों में सहमति न हो पाने के कारण कर्मियों का कार्य बहिष्कार मंगलवार को भी जारी रहने की संभावना है। 

पूरी स्टोरी पढ़िए