संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की प्रारम्भिक परीक्षा को स्थगित करने की मांग को लेकर दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और आयोग नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।
यूपीएससी प्रारम्भिक परीक्षा होगी या नहीं? सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई

New Delhi. संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की प्रारम्भिक परीक्षा को स्थगित करने की मांग को लेकर दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और आयोग नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। इस मामले में अगली सुनवाई 28 सितम्बर को होगी। बता दें कि यूपीएससी की प्रारम्भिक परीक्षा पूरे देश में चार अक्टूबर हो आयोजित होगी, इसके लिए परीक्षा प्रवेश पत्र भी जारी कर दिए गए हैं। परीक्षा के लिए सात लाख से ज्यादा उम्मीदवारों ने आवेदन किया है।

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों और कई राज्यों में बाढ़ की स्थिति को देखते हुए यूपीएससी अभ्यर्थियों ने प्रारम्भिक परीक्षा को स्थगित करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। इस याचिका पर जस्टिस एएम खानविलकर और जस्टिस संजीव खन्ना की बेंच ने गुरुवार को सुनवाई करते हुए केंद्र सरकार और यूपीएससी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

बता दें कि यूपीएससी ने परीक्षा देने वाले परीक्षार्थियों के लिए मास्क को अनिवार्य कर दिया है। यूपीएससी ने कहा कि परीक्षार्थी अपने साथ सैनिटाइजर भी ला सकते हैं। इसके साथ ही परीक्षार्थियों को कोविड-19 के नियमों का पालन करना होगा।यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2020 की प्रारम्भिक परीक्षा का आयोजन 31 मई को निर्धारित था, लेकिन कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण इसे टाल दिया गया था। 

पूरी स्टोरी पढ़िए