बागियों की वापसी से नाराज है गहलोत खेमा। इस मामले में सीएम गहलोत ने बड़ा बयान दिया है।
बागियों की वापसी से नाराज गहलोत खेमा, सीएम ने दिया बड़ा बयान

Jaipur. कांग्रेस (Congress) के शीर्ष नेतृत्व के हस्तक्षेप के बाद आखिरकार राजस्थान (Rajasthan) में मचा सियासी घमासान थम गया है। लेकिन सचिन पायलट (Sachin Pilot) और उनके समर्थक विधायकों को लेकर अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) खेमे की नाराजगी अभी खत्म नहीं हुई है। इस बात के संकेत खुद सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने दिये हैं।

बागियों की कांग्रेस (Congress) में वापसी के खिलाफ उठ रहे विरोध के स्वर पर सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने बुधवार को कहा कि पार्टी के नेताओं का परेशान होना स्वभाविक है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से यह एपिसोड हुआ है। उन्हें इतने दिन होटलों में रहना पड़ा, ऐसे में उनकी नाराजगी स्वभाविक है।

जैसलमेर (Jaisalmer) से जोधपुर (Jodhpur) रवाना होते वक्त गहलोत ने कहा कि मैंने उनको समझाया है कि देश, प्रदेश और प्रदेशवासियों के लिए और लोकतंत्र को बचाने के लिए कई बार हमें सहना पड़ता है। साथ ही उन्होंने उम्मीद जतायी कि सब आपस में मिलकर काम करेंगे, जो साथी चले गए थे वे भी वापस आ गए हैं। सब गिले शिकवे दूर करके सभी मिलकर प्रदेश की सेवा का संकल्प पूरा करेंगे।

बता दें कि गहलोत से नाराज चल रहे पायलट और उनके समर्थक 19 विधायक नई दिल्ली में प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से मुलाकात के बाद लगभग एक महीने बाद मंगलवार को जयपुर लौट आए हैं। जिससे गहलोत सरकार पर मंडरा रहा खतरा टल गया है। हालांकि इनकी कांग्रेस में वापसी से गहलोत खेमे के कुछ विधायक नाराज बताए जा रहे हैं। 

जैसलमेर के होटल सूर्यगढ़ में मंगलवार रात को हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक में इन विधायकों ने सीएम समेत पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं के सामने अपनी नाराजगी जाहिर की थी।

पूरी स्टोरी पढ़िए