साल (2020) के आखिर में बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) के होने की संभावना जतायी जा रही है। ऐसे में राजनीतिक दल (Political Parties) चुनाव लेकर रणनीति बनाने में जुटे हुए हैं।
Bihar Elections : एनडीए को चिराग देंगे बड़ा झटका, कांग्रेस ने दिया ये ऑफर

Patna. साल (2020) के आखिर में बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) के होने की संभावना जतायी जा रही है। ऐसे में राजनीतिक दल (Political Parties) चुनाव लेकर रणनीति बनाने में जुटे हुए हैं। इसके साथ ही सत्ताधारी गठबंधन एनडीए (NDA) और विपक्षी महागठबंधन (Opposition Grand Alliance) में सीटों के बंटवारे को लेकर खींचतान भी शुरू हो गयी है। जहां एनडीए में लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान असंतुष्ट दिखाई दे रहे हैं। वहीं, विपक्षी दलों ने एलजेपी (LJP) ने डोरे डालने शुरू कर दिये हैं। 

आरजेडी (RJD) के बाद अब कांग्रेस (Congress) ने चिराग पासवान (Chirag Paswan) को विपक्षी महागठबंधन (Opposition Grand Alliance) में शामिल होने का ऑफर दिया है। रविवार को कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल (Shakti Singh Gohil) ने कहा कि अगर एलजेपी (LJP) महागठबंधन में शामिल होना चाहेगी तो कांग्रेस (Congress) अपने सहयोगी दलों के साथ इस पर विचार करेगी। महागठबंधन की ओर से सीएम पद के चेहरे के बारे में राजनीतिक फायदे को ध्यान में रखकर फैसला किया जाएगा। 

भाजपा के साथ रहने पर पासवान को होगा नुकसान

साथ ही गोहिल ने यह दावा भी किया कि अगर रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) में भाजपा (BJP) के साथ रहेंगे तो उन्हें बड़ा नुकसान होगा। इसके पीछे उन्होंने सुप्रीम कोर्ट की ओर से मौलिक अधिकार नहीं बताने पर केंद्र सरकार (Central Goverment) खामोशी को आधार बताया। गोहिल का बयान चिराग पासवान (Chirag Paswan) के बयानों के चलते इन दिनों एनडीए में कथित दरार की खबरों पर आया है। 

सूत्रों की माने तो कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पार्टी नेतृत्व को जुलाई के अंत तक गठबंधन के मुद्दों को सुलझाने के लिए निर्देश भी दिये हैं। बताया जा रहा है कि वाम दलों सीपीएम और सीपीआई के साथ बातचीत चल रही है और जल्द ही इस पर अंतिम फैसला होने की उम्मीद है।